बजट 2018 की 10 बड़ी बातें : बिटकॉइन पर बैन, 5 लाख वाई-फाई हाटस्पॉट और 5जी तकनीक की शुरूआत

भारत जैसे विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के लिए आज का दिन बेहद ही अहम और खास है। आज देश का सालाना बजट सामनें आ रहा है। ​देश के वित्तमंत्री अरुण जेटली संसद में बजट 2018 को पढ़ रहे हैं। देश के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण यह बजट टेक जगत और डिजीटल इंडिया के लिए भी अत्यंत महत्व रखता है। आगे हमनें बजट 2018 के दौरान कही गई ऐसी ही 10 महत्वपूर्ण बातों का जिक्र किया है जो देश के टेक बाजार तथा आप जैसे महत्वाकांक्षी पाठकों के लिए जानना बेहद जरूरी है :

1. शुरूआत यहीं से करते हैं कि आज ऐसा पहली बार हुआ है जब सरकार द्वारा बजट को प्रिंट नहीं करवाया गया बल्कि इसकी ऑनलाइन कॉपी सभी मंत्रालयों व अफसरों को उपलब्ध करवाई गई है।

2. सरकार ने डिजिटल इंडिया के लिए 3073 करोड़ का फंड पास किया है।

3. भारत नेट योजना से 1 लाख ग्राम पंचायत जुड़ेंगी ​जिसमें ग्राम पंचायतों को पूरी तरह से ऑप्टिक फाइबर से जोड़ा जाएगा।

budget-1

4. ग्रामीण ईलाकों में 5 लाख वाई-फाई हाटस्पॉट लगाए जाएंगे, जिसके लिए 10,000 करोड़ रुपये का आवंटन हुआ है। इस योजना से 20 करोड़ लोगों को तेज इंटरनेट मिलेगा।

5. भारत सरकार हर ईलाकों व सफर के ​दौरान भी लोगों को इंटरनेट से जोड़े रखने के लिए सभी ट्रेनों में वाई-फाई की सुविधा लाएगी।

जियो क्वाइन के नाम पर चल रहा है फर्जीवाड़ा, कंपनी ने किया अगाह

6. डिजिटल इंडिया के विस्तार और हर काम को आॅनलाईन लाने के लिए अब सभी टोल प्लाजा पर ई-भुगतान की सुविधा उपलब्ध होगी।

7. भारत सरकार देश में सुपरफास्ट इंटरनेट लाने के लिए 5जी तकनीक का टेस्ट करेगी और इसके लिए चेन्नई में 5जी तकनीक का टेस्टिंग सेंटर खोला जाएगा।

girl-with-phone-indian-2

8. देश में ऐजुकेशन क्वॉलिटी सुधारने और ई-लर्निंग को अहम मानते हुए सरकार शिक्षा का डिजिटल विस्तार करेगी और ब्लैकबोर्ड की जगह डिजिटल बोर्ड लगाएगी।

9. बीते साल के ज्वलंत मुद्दों में से एक बिटकॉइन पर सरकार ने अपना रूख साफ कर दिया है। सरकार ने क्रिप्टो करेंसी के टेंडर को लीगल नहीं मानते हुए कह दिया है कि बिटकॉइन जैसी करेंसी देश में नहीं चलेगी।

10. निजी आधार कार्ड के बाद सरकार अब कं​पनियों को भी 16 अंकों का आधार जैसा नंबर प्रदान करेगी। यानि हर उद्योग के लिए अब अलग व यूनिक आईडी दी जाएगी।