आर कॉम के बाद अब बंद हो सकती है यह टेलीकॉम कंपनी, 15 हजार करोड़ का चढ़ चुका है कर्ज

पिछला साल भारतीय टेलीकॉम बाजार के लिए काफी उतार चढ़ाव वाला रहा है। रिलायंस जियो के आने से तमाम अन्य कपंनियों पर बड़ा असर पड़ा है। बाजार में मची इस रार से आम जनता को तो सस्ती कीमत पर बड़ी सेवाएं मिलनी शुरू हो गई है, लेकिन टेलीकॉम कंपनियों के मुनाफे पर गहरा असर पड़ा है। पिछले दिनों जहां रिलायंस टेलीकॉम ने अपनी सेवाएं बंद करके उद्योग में हलचल मचा दी थी वहीं अब एक और टेलीकॉम कंपनी के बंद होने की बात सामनें आ रही है। खबर मिली है कि टेलीकॉम कंपनी एयरसेल जल्द ही देश के कुछ सर्किल्स में अपनी सर्विस बंद कर सकती है।

इकोनॉमिक टाईम्स की खबर से जानकारी मिली है कि एयरसेल देश के 6 सर्किल्स में अपनी​ सर्विस बंद करने की योजना बना रही है। रिपोर्ट के अनुसार आने वाले दिनों में वेस्ट उत्तर प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और हिमाचल प्रदेश से एयरसेल अपनी 2जी सेवाएं हटा लेगी। इस संदर्भ में एयरसेल की भारत सरकार तथा दूसरी टेलीकॉम कंपनियों से बातचीत चल रही है।

smartphone-calling- 91Mobiles

गौरतलब है कि इन 6 राज्यों में एयरसेल के पास 4 मिलियन यानि 40 लाख से भी ज्यादा का उपभोक्ता आधार है। रिपोर्ट में बताया गया है कि एयरसेल पर तकरीबन 15 हजार 500 करोड़ रुपये का कर्ज है, और 2जी सर्विस में कंपनी का मुनाफा लगातार घटता जा रहा है। एक और जहां 4जी नेटवर्क का यूज़ लगातार बढ़ता जा रहा है ऐसे में एयरसेल के पास 4जी स्पेक्ट्रम नहीं है। आज एयरसेल तकरीबन 40,000 टावरों के साथ 9 करोड़ यूजर्स को जोड़े हुए हैं। वहीं इन 6 सर्किल्स में एयरसेल के साथ 5,000 से भी ज्यादा कर्मचारी जुड़े हुए हैं।

नए साल का जश्न होगा और भी कूल, ​फ्लिपकार्ट दे रहा है बंपर डिस्काउंट देखें 10 ​बड़ी डील

रिपोर्ट के अनुसार एयरसेल 2जी स्पेक्ट्रम को बेचने की जुगत लगा रही है और इस मामले को लेकर कंपनी जल्द ही ट्राई से बातचीत करेगी। हालांकि एयरसेल की ओर से अब तक ​इस बारें में कोई भी आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है लेकिन माना जा रहा है कि 2018 की शुरूआत में एयरसेल अपनी सर्विस को लेकर कोई घोषणा कर देगी तथा अपने यूजर्स को सूचना देगी। बहरहाल अगर कारणों पर गौर करें तो एयरसेल आर्थिक तंगी का सामना कर रही है और इसके चलते मजबूरन अपनी सेवाएं बंद करेगी।

SHARE
Previous articleशाओमी रेडमी 5
Next article40-मेगापिक्सल कैमरे वाला फोन ला रहा है हुआवई, बैक पैनल पर होंगे 3 कैमरा सेंसर
लैपटॉप की 'की' से लेकर मोबाईल की 'हैलो' तक, सबकुछ तकनीक है। बस इसी को समझा और इसी को लिखा। इनका मनाना है कि तकनीक नई हो या पुरानी हर रोज़ कुछ न कुछ नया ​दिखाती है, सिखाती है। टेक्नोलॉजी के प्रति इसी सोच ने कमल को तकनीक जगत में आने के लिए प्रेरित किया है। पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने 6 साल के अनुभव के दौरान ये मीडिया के तीनों मंचों- प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक्स और सोशल मीडिया पर कार्य चुके हैं।