फिर प्ले स्टोर पर आया यूसी ब्राउजर, डाटा सुरक्षा का दिया भरोसा

देश में सबसे ज्यादा यूज़ की जाने वाली इंटरनेट ब्राउजिंग ऐप यूसी ब्राउजर पर यूजर्स का पसर्नल डाटा चोरी करने का आरोप लगा था। इस आरोप के कुछ समय बाद ही गूगल ने यूसी ब्राउजर ऐप को प्ले स्टोर से 30 दिनों के लिए हटा दिया था। अभी इस बैन को कुछ ही दिन हुए थे कि यूसी ब्राउजर एक और नई ऐप के साथ प्ले स्टोर पर फिर से एंट्री कर चुका है।

भरोसेमंद नोकिया को मिला जियो का साथ, अब 100जीबी 4जी डाटा मिलेगा मुफ्त

यूसी ब्राउजर का मालिकाना हक रखने वाली चीनी कंपनी अलीबाबा ने अपनी इसी ऐप का एक और वर्ज़न पेश किया है। गूगल द्वारा प्ले स्टोर से ऐप बैन किए जाने के बाद कंपनी ने यूसी ब्राउजर का नया वर्ज़न भारत में लॉन्च कर दिया है। यूसी ब्राउजर का यह नया वर्ज़न आज यानि 22 नवंबर से प्ले स्टोर पर उपलब्ध हो जाएगा और यूजर्स इसे डाउनलोड कर सकेंगे।

us-browser

आपको बता दें कि यूसी ब्राउजर को प्ले स्टोर से हटाते हुए गूगल ने कहा था कि इस ऐप की सेटिंग्स गूगल की पॉलिसी के हिसाब से सही नहीं है तथा सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए यूसी ब्राउजर को प्ले स्टोर से ​हटाया जा रहा है। इस वाक्यें के दूसरे सप्ताह में अब यूसी ब्राउजर ऐप के नया संस्करण आ गया है और इसपर कंपनी का कहना है कि इस ऐप के टेक्नीकल सेटिंग्स गूगल की पॉलिसी को ध्यान में रखकर की गई है।

आईफोन 10 की 10 ऐसी बातें जो शायद ही आपको पता हों

गौरतलब है कि इंटरनेट ब्राउजिंग के लिए यूसी ब्राउजर कर उपयोग भारत में सबसे ज्यादा किया जाता है। यूसी ब्राउजर गूगल क्रोम के पीछे छोड़ते हुए इंडियन मोबाईल ब्राउजिंग मार्केट के 45.08 प्रतिशत बाजार पर कब्जा किए हुए है। तकरीबन दो माह पहले यूसी ब्राउजर पर आरोप लगे थे कि यह ऐप भारतीय स्मार्टफोन यूजर्स का पर्सनल डाटा ट्रैक कर उन्हें चोरी से चीन स्थित सर्वर पर भेजती है।